रोहित ने टी20 विश्व कप जीत के बाद की पांड्या की तारीफ, कहा-आखिरी ओवर फेंकने के लिए उन्हें सलाम

मुंबई, 5 जुलाई । भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान रोहित शर्मा ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ आईसीसी टी 20 विश्व कप 2024 के फाइनल के दौरान आखिरी ओवर में ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या की शानदार गेंदबाजी की तारीफ की। भारतीय टीम ने 29 जून को बारबाडोस में दक्षिण अफ्रीका को सात रनों से हराकर दूसरी बार प्रतिष्ठित टी20 विश्व कप ट्रॉफी जीती। रोहित ने टी20 विश्व कप फाइनल जीतने के बाद खेल के सबसे छोटे प्रारूप से संन्यास की घोषणा की।

मुंबई में जन्मे इस क्रिकेटर ने ट्रॉफी जीतने की खुशी में वानखेड़े में आयोजित सम्मान समारोह में अपनी भावनाएं व्यक्त कीं। रोहित ने कार्यक्रम के दौरान कहा, “यह ट्रॉफी पूरे देश के लिए है। देश का प्रतिनिधित्व करने वाले सभी खिलाड़ियों के साथ-साथ हम इसे अपने प्रशंसकों को समर्पित करना चाहते हैं, जिन्होंने 11 साल तक इसका इंतजार किया है।”

इसके अलावा, सलामी बल्लेबाज ने वानखेड़े स्टेडियम में मौजूद दर्शकों की प्रशंसा की और उन्हें धन्यवाद कहा। दाएं हाथ के बल्लेबाज ने कहा, “मुंबई कभी निराश नहीं करती। हमें शानदार स्वागत मिला। टीम की ओर से हम प्रशंसकों का धन्यवाद करना चाहते हैं। मैं बहुत-बहुत खुश और राहत महसूस कर रहा हूं।”

अंत में, इस बेहतरीन बल्लेबाज ने फाइनल के आखिरी ओवर में पांड्या की शानदार गेंदबाजी की सराहना की। उन्होंने कहा, “हार्दिक हमारे लिए आखिरी ओवर फेंक रहे थे। आखिरी ओवर फेंकने के लिए उन्हें सलाम। आप जानते हैं, चाहे आपको कितने भी रन चाहिए हों, उस ओवर को फेंकने का हमेशा बहुत दबाव होता है। लेकिन उन्हें सलाम।”

हेनरिक क्लासेन और डेविड मिलर के महत्वपूर्ण विकेटों के साथ फाइनल में बड़ा योगदान देने वाले इस ऑलराउंडर ने बल्ले और गेंद से अच्छा प्रदर्शन किया और इस श्रेणी में नंबर 1 पर पहुंचने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बने। हार्दिक पांड्या ने बल्ले से निचले क्रम में प्रभावशाली प्रदर्शन किया और जब टीम को उनकी ज़रूरत थी, तब गेंद से भी सफलता हासिल की। उन्होंने 150 से ज़्यादा की बैटिंग स्ट्राइक रेट से 144 रन बनाए और 11 विकेट भी लिए।

रोहित शर्मा ने टी20 विश्व कप 2024 जीतने के बाद 20 ओवर के प्रारूप से संन्यास की घोषणा की। 159 मैचों में 4231 रन के साथ, रोहित इस प्रारूप के सर्वश्रेष्ठ स्कोरर हैं। उनके नाम टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में सबसे ज़्यादा शतक (पांच) लगाने का रिकॉर्ड भी है। उन्होंने दो टी20 विश्व कप जीते हैं: पहला 2007 में प्रतिस्पर्धा करते हुए और मौजूदा 2024 में कप्तान के तौर पर।

टी20 विश्व कप जीतने वाली भारतीय टीम के सदस्यों का गुरुवार को दिल्ली से मुंबई पहुंचने के बाद मरीन ड्राइव से वानखेड़े स्टेडियम तक खुली छत वाली बस में विजय परेड के दौरान जोरदार स्वागत किया गया। विश्व कप जीत की खुशी में झूमते प्रशंसकों का एक समूह ताली बजाकर और जयकारे लगाकर टीम का स्वागत कर रहा था। टीम के सदस्यों ने भी प्रशंसकों की भावनाओं का जवाब देते हुए मुस्कुराते हुए और हाथ हिलाकर उनका अभिवादन किया।

कप्तान रोहित शर्मा और स्टार बल्लेबाज विराट कोहली ने टी20 विश्व कप 2024 की ट्रॉफी उठाई और रास्ते में बड़ी संख्या में मौजूद प्रशंसकों को दिखाई। इस अवसर पर जश्न मनाने के लिए भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के सचिव जय शाह और बोर्ड के उपाध्यक्ष राजीव शुक्ला भी बस में खिलाड़ियों के साथ थे। इस जश्न के दौरान खिलाड़ियों ने खुद को तिरंगे में लपेटा हुआ था।

खिलाड़ियों को बेहतर तरीके से देखने के लिए कुछ प्रशंसक पेड़ों पर भी चढ़ गए। खिलाड़ियों ने ट्रॉफी थामकर उत्साही क्रिकेट प्रशंसकों की ओर हाथ हिलाया। रोहित ने टीम के मुख्य कोच राहुल द्रविड़ और बल्लेबाज सूर्यकुमार यादव का हाथ थामा और तीनों ने आसमान की ओर हाथ जोड़कर टीम की जीत का संकेत दिया। इसके बाद टीम वानखेड़े स्टेडियम पहुंची।

इससे पहले, टीम इंडिया विजय परेड के लिए मुंबई पहुंची और उनका जोरदार स्वागत किया गया। वेस्टइंडीज में विश्व कप जीतने के लिए धैर्य, दृढ़ संकल्प और लचीलापन दिखाने वाली टीम का स्वागत करने के लिए मरीन ड्राइव पर प्रशंसकों का एक समूह मौजूद है। विजय परेड के बाद वानखड़े स्टेडियम में सम्मान समारोह आयोजित किया गया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.