मदरसा आधुनिकीकरण शिक्षकों ने बयां किया अपना दुख दर्द और मांगा बकाया मानदेय

मुफ्ती शमून क़ासमी ने की मोदी - योगी शासन की प्रशंसा

मदरसा आधुनिकीकरण शिक्षक संघ बिजनौर का सम्मान समारोह धामपुर में संपन्न 

धामपुर (बिजनौर )यूपी (अनवार अहमद नूर) धामपुर नगर में आज मदरसा आधुनिकीकरण शिक्षक संघ बिजनौर की ओर से एक सम्मान समारोह आयोजित किया गया, जिसमें मुफ्ती शमून कासमी, सदस्य- प्रोजेक्ट अप्रूवल बोर्ड केंद्रीय मदरसा आधुनिकीकरण योजना (अल्पसंख्यक मंत्रालय भारत सरकार ) ने मुख्य अतिथि के रूप में भाग लिया और आधुनिकीकरण शिक्षकों की समस्याओं को सुनकर उनके समाधान का आश्वासन दिया। इस अवसर पर मदरसा आधुनिकीकरण शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष कमरुद्दीन, हज़रत मौलाना मुफ्ती क़मर साहब, अज़ीमुल्ला फरीदी, एडवोकेट अबरार अहमद, तनवीर अहमद, शाहिद हुसैन, इरशाद अली,अफजाल अहमद, मोहम्मद वारिस, नसरीन अंजुम, कायनात ज़ैदी सहित जनपद के अनेक शहरों, तहसील और कस्बों के मदरसा आधुनिकीकरण शिक्षकों ने भाग लिया जिसमें महिला शिक्षक भी बड़ी संख्या में मौजूद  रहीं। मुख्य अतिथि का सभी ने भव्य स्वागत किया, प्रशस्ति पत्र और शाल उढ़ा कर सम्मानित किया। साथ ही मदरसा आधुनिकीकरण शिक्षकों की समस्याओं से भरा एक ज्ञापन पत्र भी उनको इस आशय के साथ सौंपा गया कि वह उन समस्याओं का अवश्य समाधान कराएंगे जिससे वर्षों से मदरसा शिक्षक दो-चार हो रहे हैं और उनके परिवार प्रभावित हो रहे हैं।

मदरसा आधुनिकीकरण शिक्षक संघ के जिला अध्यक्ष कमरुद्दीन ने बताया की मदरसों के शिक्षक लगातार मेहनत कर रहे हैं और अध्यापन का कार्य कर रहे हैं लेकिन सरकार उनका मानदेय नहीं दे रही है। पिछले 4 साल का बकाया मानदेय है फिर भी टीचर अपना काम बखूबी कर रहे हैं, इस आशा के साथ कि आज नहीं तो कल कुछ अच्छा होगा और उनका मानदेय मिलेगा । इसी उम्मीद पर मदरसा आधुनिक टीचर बैठे हुए हैं और अपना काम कर रहे हैं आज मुख्य अतिथि मुफ्ती शमून कासमी के सम्मान समारोह में भी शिक्षकों ने अपनी अनेकों समस्याओं को रखा। स्योहारा के अनवार  अहमद ने मदरसा अध्यापकों के शोषण, उनको मानदेय न मिलने, परीक्षा कक्ष की ड्यूटी के पैसे न दिए जाने और अल्पसंख्यक विभाग कार्यालय में शिक्षकों का लगातार शोषण किए जाने, बार बार कागज़ों को जमा कराने के नाम पर भ्रष्टाचार होने का मुद्दा उठाते हुए शिक्षकों की बेहाली को उजागर किया।
मुख्य अतिथि मुफ्ती शमून कासमी ने कहा कि वह मदरसा के आधुनिकीकरण शिक्षकों की समस्याओं के समाधान के लिए हर संभव प्रयास करेंगे उन्होंने बताया की शिक्षकों को अपना कार्य निस्वार्थ भाव से करते रहना चाहिए वर्तमान केंद्रीय मोदी सरकार और यूपी की योगी सरकार की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा कि इस शासनकाल में अल्पसंख्यकों के साथ कोई भेदभाव नहीं है सरकारी योजनाएं और उनका लाभ सभी को समान रूप से उपलब्ध कराया जाता है। महिलाओं की भी उन्होंने काफ़ी तारीफ करते हुए उनको घर परिवार और राष्ट्र को बनाने संवारने की अनेक नसीहतें दी, साथ ही उन्होंने आश्वासन दिया कि वह मदरसे के आधुनिकीकरण शिक्षकों की समस्याओं और उनके मानदेय और ड्यूटी के पैसे वगैरह न मिलने के मामलों को अपने उच्च पदाधिकारियों और माननीय मंत्री महोदय तक अवश्य पहुंचाएंगे और निष्पक्ष रुप से जितना भी उनसे हो सकता है वह मदरसा आधुनिकीकरण शिक्षकों की समस्याओं को सुलझाने में अपना सहयोग प्रदान करेंगे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.